सीएमपीडीआई वेबसाइट पर आपका स्वागत है


           सीआईएल मेल           
हमे फेसबूक पर पसंद करे टिवीटर पर फॉलो करना
ऑनलाइन भर्ती
ऑनलाइन भर्ती


अस्वीकृति

कोयला परिष्करण



सीएमपीडीआई नई कोयला वाशरियों तथा खनिज परिष्करण के साथ-साथ वर्तमान संयंत्रों के आधुनिकीकरण के लिए संपूर्ण परामर्शी सहायता (आयोजना, डिजाइन तथा निर्माण) प्रदान करता है। सीएमपीडीआई हर-हाल में नई प्रौद्योगिकीयों को अपनाने पर पर्याप्त ध्यान देता है।



दी जाने वाली सेवाएँ

  • विश्वसनीय (बैंकेबल) परियोजना रिपोर्ट
  • परियोजना प्रबंधन परामर्श तथा प्रणाली की डिजाइन
  • पूर्व-अभियंत्रण (प्री इंजीनियरिंग) डिजाइन ड्राईंग
  • निर्माण के दौरान पर्यवेक्षण
  • कार्य निष्पादन स्वीकृति परीक्षण
  • परिष्करण संयंत्रों का टर्न की निष्पादन
  • बीओओ (निर्माण करो, मालिक बनो, चलाओ) के आधार पर संयंत्रों की स्थापना
  • परियोजना का मूल्य निर्धारण एवं मूल्यांकन
  • प्रायोगिक पैमाना (पायलट स्केल) अध्ययन तथा परीक्षण

बीओओ (निर्माण करो, मालिक बनो, चलाओं) के लिए दी जाने वाली विशेष सेवाएँ

  • बीओओ (निर्माण करो, मालिक बनो, चलाओं) हेतु निम्नलिखित दोनों के लिए परामर्श सेवाएँ दी जाती है:
    • संयंत्र की स्थापना करने के लिए ग्राहक आमंत्रण बोली (क्लाइन्ट्स इनवाइटिंग बिड्स)
    • संयंत्र के लिए बोली लगाने वाले ग्राहक
  • निविदा विनिर्देशन तैयार करने का कार्य
  • बोली (बिड्स) की तैयारी
  • डाक-बोली का मूल्यांकन
  • संविदा को अंतिम रूप देने में सहायक
  • कार्यान्वयन के दौरान निर्माण प्रबंधन
  • कार्य-निष्पादन परीक्षण में सहायक


सीएमपीडीआई ने कई वर्षों से कोयला तैयार करने में तथा अन्य खनिज को और अधिक साफ करने में तथा ग्राहकों को स्वीकार्य करने में अपनी सुविज्ञता विकसित की है।


सीएमपीडीआई ने विशेष धूआँरहिर्त इंधन (एसएसएफ) के विकास के माध्यम से अपनी प्रौद्योगिकी पेटेंट कर ली है। 


दी जाने वाली सेवाएँ

  • एसएसएफ, पैलटे तथा ब्रिक्वेट प्लांटों की डिजाइन, जानकारी, संरचना तथा कमीशनिंग
  • ज्वलनशीलता से संबंधित पावर प्लांटों पर आधारित कोयला/लिग्नाइट में कठिन शूटिंग
  • पूराने कोक ओवेन में कोयला कार्बनीकरण तथा कठिन शूटिंग के लिए परियोजना रिपोर्ट तेयार करना।
  • कोयला एवं खनिजों की विशेषताओं का विश्लेषण तथा मूल्यांकन करना
  • विभिन्न कोयला उपयोग उद्योगों के लिए बाजार का सर्वेक्षण तथा क्षमता का मूल्यांकन करना।
  • कोयला ब्लेंड परीक्षण कार्यक्रम तथा घरेलू ईंधन उत्पादन के संबंध में कोयले का परीक्षण करना।
  • कोयला / कोयला आधारित उत्पादों के द्वारा ईंधन तेल प्रतिस्थापन